हस्तरेखा में चंद्रमा का महत्व।

हस्तरेखा में चंद्रमा का महत्व।

प्रेम, शांति, रहस्य, चपलता; यात्रा, यादें, लेख का स्वामी
कलाई ऊपर उगे चन्द्रमा; संगीत, कलामय, निष्कामी ।


स्नेही, पुत्रवान और नामी
या कोई वह शांति-दूत;
उच्च चंद्र का स्वामी होगा,
याददास्त हो तेज बहुत।

ग्रह-बिम्ब दबा, कटा, दोषी हो; स्वास्थ्य-बाधा, मन दुःख लाता
प्रेम-भाव संग कला सोलहों; नीरस मन को नहीं भाता।

बाहर शांत किन्तु अंदर से मन तनाव, उत्तेजित रहता ;
निश्चय इसके हस्तरेख में चंद्र अति विकसित होता ।
जय महाकाल ।

यदि आपके पास नौकरी, विवाह, घर, संतान प्राप्ति, या अपनी कुंडली से संबंधित कोई भी सवाल हो तो आप हमें अपना प्रशन इस ईमेल आईडी पर भेज सकते हैं info@jaymahakaal.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *