आठ मुखी रुद्राक्ष के महत्त्व, लाभ और धारण मन्त्र

8-mukhi-rudraksha

आठ मुखी रुद्राक्ष के महत्त्व, लाभ और धारण मन्त्र

आठ मुखी रुद्राक्ष आठ दिशाओं और आठ सिद्धियों का नेतृत्व करता है। वैसे तो आठ मुखी रुद्राक्ष भगवान गणेश और भैरव बाबा का प्रतीक माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि इस रुद्राक्ष में साक्षात माँ गंगा का वास होता है इसलिए इस रुद्राक्ष को पहनने से गंगा में नहाने जैसा पुण्य मिलता है। आठ मुखी रुद्राक्ष का स्वामी ग्रह राहु है। मान्यता है कि पूरे विधि-विधान और पवित्र कर पहने गए इस रुद्राक्ष से भैरव बाबा प्रसन्न होते हैं। इस रुद्राक्ष को सोमवार, अमावस्या या पूर्णिमा के दिन पहनना शुभ माना जाता है। इस रुद्राक्ष का स्वामी गृह राहु है इसलिए इस रुद्राक्ष के धारक के राहु दोष दूर होते है। शास्त्रों के मुताबिक़ जिस तरह हर पूजा से पहले प्रथम पूज्य गणेश जी की पूजा की जाती है, उसी तरह इस रुद्राक्ष को बिना किसी संकोच या जानकारी के भी धारण किया जा सकता है।

महत्त्व:
१. शनि और राहु ग्रह के बुरे प्रभाव को कम करता है।
२. ऐसा माना जाता है की इस रुद्राक्ष के धारक को स्वर्ग और मोक्ष की प्राप्ति होती है।
३. आठ मुखी रुद्राक्ष धारक गंध और दीक्षा की शक्ति देता है।
४. यह रुद्राक्ष धारक को भगवान गणेश के नजदीक ले जाता है तथा उच्च बुद्धि और ज्ञान का आशीर्वाद देता है।

लाभ:
१. आठ मुखी रुद्राक्ष धारक को इच्छा शक्ति, स्थिरता और सफलता प्रदान करता है।
२. गैर स्त्रियों से सम्बन्ध रखने के पाप से मुक्ति दिलाता है।
३. यह रुद्राक्ष बौद्धिक कार्यो में शामिल लोगो के लिए अत्यंत उपयोगी माना जाता है।
४. सर्प दोष से पीड़ित जातको के लिए ये रुद्राक्ष बहुत ही कारगर सिद्ध होता है।
५. यह रुद्राक्ष व्यापारी वर्ग और नौकरी करने वाले लोगो के लिए भी अतयंत उपयोगी माना जाता है।

चिकित्स्कीय लाभ:
१. यह रुद्राक्ष मानसिक सुस्ती को दूर कर के धारक को अधिक सक्रिय करता है।
२. आठ मुखी रुद्राक्ष पैरो और हड्डियों की परेशानियों को दूर करता है।
३. मोटापा दूर करता है।
४. आठ मुखी रुद्राक्ष त्वचा एवं फेफड़ो की बीमारियों को दूर करता है।
५. आठ मुखी रुद्राक्ष धारक को तनाव और चिंताओं से मुक्त करता है।

राशि विशेष:
हर राशि के जातक के लिए उत्तम माना जाता है।

रुद्राक्ष मन्त्र:
८ (8 ) मुखी रुद्राक्ष को धारण करने का मन्त्र है:
“ॐ हूं नमः”
इस रुद्राक्ष को साथ मुखी रुद्राक्ष के साथ धारण करना अति शुभ माना गया है, ७ मुखी रुद्राक्ष माँ लक्ष्मी का प्रतीक है, इसलिए सात और आठ मुखी रुद्राक्ष को एक साथ धारण करने की सलाह दी जाती है।

अगर आप के पास भी रुद्राक्ष से सम्बंधित सवाल या जानकारी हो तो आप हमसे साझा करे, रुद्राक्ष प्राप्त करने हेतु भी आप हमसे हमारी ईमेल आईडी jaymahakaal01@gmail.com पर संपर्क कर सकते है।
हमें facebook लिंक https://www.facebook.com/JayMahakal01/ ,
twitter और instagram पर फॉलो करे हमारा handle है @jaymahakaal01

जय महाकाल।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *