नवरत्न के अदभुत चमत्कार।

नवरत्न के अदभुत चमत्कार।

यदि आप भारत से सम्बंधित हैं तो शायद आपने “नवरत्न” या नौ अनमोल रत्नों के बारे में सुना ही होगा, जिनको आमतौर पर नव मुख्य ग्रहों (ग्रह) को संतुष्ट करने के लिए धारण किया जाता है जो किसी के भाग्य को गहराई से प्रभावित करने वाले माने जाते हैं।

नवरत्न के महत्व

हीरा – यह सर्वाधिक कठोर और मूलयवान नवरत्ना होता है | यह सफेद , गुलाबी , पीले तथा काले रंग मे पाया जाता है | यह शुक्र ग्रह का प्रतिनिधि रत्न माना जाता है |

पन्ना – यह हरा या सफेद मिश्रित हरे रंग का रत्न होता है | यह पारदर्शी तथा अपारदर्शी दोनों ही प्रकार का होता है | इसे बुध ग्रह का प्रतिनिधि रत्न माना जाता है |

पुखराज – यह पीले अथवा सफेद रंग का रतनीय पत्थर होता है | यह पारदर्शी होता है | इसे बृहस्पति का प्रतिनिधि रत्न माना जाता है |

नीलम – नीलम मोर की गर्दन के समान गहरे नीले रंग का अथवा पारदर्शी हलके नीले रंग का रत्न होता है | गहरे नीले रंग के नीलम को बैंकाक का नीलम कहते है | हल्के नीले रंग के पारदर्शी नीलम को सीलोनी नीलम कहते है |यह शनि ग्रह का प्रतिनिधि रत्न होता है |

माणिक – यह रत्न लाल रंग का श्रेष्ठ होता है किन्तु श्याम वर्ण मिश्रित लाल रंग के भी माणिक होते है | इसे सूर्य का प्रतिनिधि रत्न माना जाता है | जहाँ तक इसके प्रभाव का प्रश्न है लाल व श्याम – मिश्रित लाल रंग वाले , दोनों का प्रभाव समान ही होता है |

मूंगा – यह प्राय: लाल , सिंदूरी तथा सफेद रंगो का होता है | इसे मंगल ग्रह का प्रतिनिधि रत्न माना जाता है |

मोती – मोती प्राय: सफेद रंग का आबदार रत्न होता है | साथ ही ये हल्के गुलाबी तथा हल्के पीले रंगो मे भी प्राप्त होता है | इसे चन्द्रमा का रत्न माना जाता है |

गोमेद – यह कालापन लिए हुए लाल रंग का अथवा पीलापन मिश्रित लाल रंग का होता है | साथ ही ये गोमूत्र के रंग का भी होता है | इसे राहु ग्रह का प्रतिनिधि माना जाता है |

लहसुनिया – इसका रंग कुछ कालापन लिए हुए हरा या पीला भी होता है | इसमें बिल्ली की आँख के समान धारी होने से इसे विडालाक्ष भी कहते है | यह केतु ग्रह का प्रतिनिधि रत्न होता है |

अगर आप के पास भी हिन्दू संस्कृति से सम्बंधित सवाल या जानकारी हो तो आप हमसे साझा करे। हिन्दू सभ्यता से जुडी नित नई जानकारी प्राप्त करने हेतु आप हमें facebook twitter और instagram पर फॉलो करे हमारा handle है @jaymahakaal01

आप अपने सवालों और सुझावों के लिए हमारी E – Mail ID askus@jaymahakaal.com पर भी संपर्क कर सकते है।

।।जय महाकाल।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *